Elon musk biography

कैसे बने एलोन मस्क सदी के सबसे बड़े अरबपति

Spread the love

कैसे बने एलोन मस्क सदी के सबसे बड़े अरबपति

दोस्तों आज हम बात करेंगे फाइनेंस (finance) की दुनिया के बेताज बादशाह एलोन मस्क की । आज हम इस पोस्ट में जानेंगे के कैसे एलोन मस्क इस ऊंचाई तक पहुंचे, इसके लिए उन्होंने क्या क्या किआ। कितना रिस्क लिया, कहाँ से और कैसे फाइनेंस जुटाए और कैसे वो यहां तक पहुंचे । आज कोई अरबपति बनना चाहता है तो उसे एलोन मस्क से जरूर प्रेरणा मिलती है। तो चलिए जानते है उनके बारे में।

अरबपति बनने के कुछ तरीके

यदि आप अरबपति बनना चाहते हैं – और आप किसी शाही परिवार में पैदा नहीं हुए हैं – तो  अमीर काम बनने के कुछ तरीके हैं। आप एक नया कंप्यूटर ऑपरेटिंग सिस्टम जैसे की माइक्रोसॉफ्ट के बिल गेट्स ने किआ या फिर फेसबुक जैसे किसी सोशल नेटवर्क की शुरुआत जैसे कुछ गंभीर आइडिआ के जरिये शुरुआत कर सकते हैं जो आगे चलकर एक विशाल कंपनी के रूप में बदल सकती है। एक और उपाय है, अगर आप एक चालाक फाइनेंसियल इन्वेस्टर (financial investor) है जैसे की वारेन बफे तो आप उनका रास्ता अपना सकते हैं, जिसमें दशकों से चल रहे चतुर, कम जोखिम वाले निवेशों की श्रृंखला बनाई जा सकती है, और फिर धन को धीरे-धीरे अपने पास आते हुए देखें। और आपको इन सब कामो को करना थोड़ा बोरिंग या उबाऊ लग रहा है तो फिर आप वो कर सकते है जिसे टेस्ला और स्पेसएक्स जैसी कंपनी के मालिक एलोन मस्क ने किया।

शुरुआत में एलोन मस्क ने कैसे खड़ी अपनी नींव

एलोन मस्क ने आज के अधिकांश प्रसिद्ध अरबपतियों की तुलना में अपना पैसा काफी अलग तरीके से बनाया है। एक नया और अद्भुत विचार के बजाय, उन्होंने कुछ अच्छे विचार पे काम किआ। और चालाक, सुरक्षित निवेशों के झुंड के बजाय, उन्होंने कुछ बड़े हीं शानदार जोखिम भरे फाइनेंसियल निवेश किए जिसके कारण आज वो दुनिया के सबसे अमीर व्यक्ति हैं। लेकिन उनके इन पागलपन भरे फैसलों में एक ख़ास तरीका था, जो भले ही उस समय कई लोगों को नजर ना आया हो या यूँ कहें के स्पष्ट न हो पर उन फाइनेंसियल जोखिम भरे दाँव की कुल राशि ने एलोन मस्क को पृथ्वी पर सबसे अमीर निजी नागरिक बना दिया।

उनके विश्व-परिवर्तनकारी और क्रन्तिकारी क़दमों जैसे की निजी तौर पर लॉन्च किए गए अंतरिक्ष मिशन से लेकर एक इलेक्ट्रिक वाहन को व्यापक रूप से लांच तक एक ऐसा स्वरुप बाजार में ला खरा किआ जिसने ऑटो उद्योग और प्राइवेट सेक्टर को उनके बराबर पहुँचने के लिए जबरदस्त होड़ मचा दी  ।

एलोन मस्क के शुरुआती दिन 

एलोन मस्क का परिवार एक संपन्न परिवार था। पैसे की उन्हें कोई ख़ास कमी ना थी । कंप्यूटर में उनकी रूचि शुरुआत से थी और उनमे इसकी योग्यता भी थी। उन्होंने 12 साल की उम्र में अपना खुद का वीडियो गेम डिजाइन किया। जब वह 17 वर्ष के थे, तब वे दक्षिण अफ्रीका के रंगभेद शासन में सैन्य सेवा से बचने के लिए कनाडा के लिए रवाना हुए, ओंटारियो में क्वींस विश्वविद्यालय में दाखिला लिया।

1992 में, उन्होंने पेंसिल्वेनिया विश्वविद्यालय में स्थानांतरित कर दिया, जहाँ उन्होंने भौतिकी और व्यवसाय का अध्ययन किया। पेंसिल्वेनिया के पंक्तिबद्ध पेड़ भरे परिसर ने मस्क को जोखिम भरे व्यावसायिक उपक्रमों के लिए अपना पहला आईडिया भी दिया होगा शायद यही कारण होगा की उन्होंने और कुछ उनके कुछ दोस्तों ने एक ऑफ-कैंपस घर किराए पर लिया और इसे एक नाइट क्लब में बदल दिया। यह था उनका पहला कदम जोखिम भरे निर्णयों को लेने का।

एलोन मस्क ने भौतिकी में पीएच.डी. के लिए स्टैनफोर्ड यूनिवर्सिटी में दाखिला लिया लेकिन उनका मन इसमें नहीं लगा और दो दिनों के बाद हीं उन्होंने इसे छोड़ दिआ। यह युवा उद्यमी यह महसूस करने लगे थे कि इंटरनेट, कंप्यूटरों के बीच कनेक्शन का एक नया जाल इस अलग सोच रखने वाले एलोन मस्क के लिए खेल के मैदान से अधिक हो सकता है, और मस्क अपनी किस्मत इसमें आजमाना चाहते थे। उन्होंने अपने भाई किम्बल के साथ मिलकर एक ऑनलाइन बिज़नेस डायरेक्टरी के रूप में Zip2 नामक एक कंपनी की स्थापना की, जो नक्शे के साथ एक प्रकार का इंटरनेट-सक्षम  येलो पेजेज था । यह सोच नब्बे के दशक के मध्य में एक काफी अलग विचार था।

शुरूआती फाइनेंस के लिए निवेशकों को ढूंढा

एलोन और किम्बल ने निवेशकों को ढूंढा और कंपनी को चलाने के लिए बाहरी मदद ली, और न्यूयॉर्क टाइम्स जैसे प्रकाशकों के साथ सौदे किए। 1999 में, उन्होंने Zip2 को कॉम्पैक को बेच दिया, जो उस समय की गिरावट वाली कंप्यूटर बनाने वाली कंपनी थी। इस डील में उन्हें $ 307 मिलियन डॉलर मिले। मस्क ने Zip2 की बिक्री से अपने खाते में $22 मिलियन डॉलर की शानदार कमाई की। वह तुरंत गए और मैकलारेन एफ1 सुपरकार पर जो की उस समय $1 मिलियन डॉलर में आता था  ख़रीदा।

एलोन मस्क  ने बाद में बताया था की “यह मेरे बाकी व्यवहार के अनुरूप नहीं था । कार को उनके घर पहुंचाया गया था। एक साल बाद, मस्क ने कार को बर्बाद कर दिया – वह अपने स्टंट दिखाने के चक्कर में मैकलारेन एफ1 सुपरकार को एक फ्रिसबी की तरह हवा में लॉन्च कर दिया। कार पूरी तरह टूट गयी और इस मिलियन डॉलर की स्पोर्ट्स कार का बीमा भी नहीं था। लेकिन तब तक मस्क अपने अगले दूसरेव्यापारिक काम की तरफ बढ़ चुके थे।

एलोन मस्क की शुरुआती कंपनी (Paypal)पेपाल

मस्क ने X.com नामक एक और ऑनलाइन बैंकिंग स्टार्टअप शुरू करने के लिए अपने लाखों डॉलर लगा दिए।मार्च 2000 में ऑनलाइन बैंकिंग स्टार्टअप एक व्यवसाय बन गया जो अंततः (Paypal)पेपाल बन गया। मस्क को सीईओ नामित किया गया था, लेकिन सितंबर में, जब वे छुट्टी पर थे, बोर्ड ने उन्हें निकाल दिया, उनकी जगह थिएल को नियुक्त किया, कारण था आंशिक रूप से कंपनी के सर्वर को स्विच करने पर असहमति के कारण। मस्क ने उस समय कहा था की, “जब बहुत सारी प्रमुख चीजें चल रही हों, और जिससे कार्यालय के लोगों को बहुत तनाव हो रहा हो, तो कार्यालय छोड़ना अच्छा फैसला नहीं है।”

हालांकि कंपनी में मस्क की अभी भी हिस्सेदारी थी और जब (eBay) ईबे ने 2002 में पेपाल (Paypal) को 1.5 बिलियन डॉलर में खरीदा, तो मस्क ने सौदे से 180 मिलियन डॉलर का मेगा-फॉर्च्यून हासिल किया। फाइनेंस की दुनिया में उन्होंने तहलका ला दिआ था पेपाल(Paypal) के साथ । पेपाल जैसी ऑनलाइन बँकिंग फाइनेंस कंपनी उस समय एक क्रन्तिकारी सोच थी।

कैसे अपने जूनून से आगे बढे एलोन मस्क

एलोन मस्क ने इसके बाद भी कभी आराम नहीं किआ जबकि दूसरे उन करोड़ो डॉलर के साथ ऐश की जिंदगी जी सकते थे। 2002 में, उन्होंने स्पेसएक्स की स्थापना की जिसमे की उनका उद्देश्य था, मंगल ग्रह को उपनिवेश बनाने जैसा लगभग अजीबोगरीब मिशन। अगले वर्ष, उन्होंने (Tesla) टेस्ला में $6 मिलियन डॉलर से अधिक का प्रारंभिक निवेश किया, जो उस समय संस्थापकों की एक जोड़ी और इलेक्ट्रिक स्पोर्ट्स कारों को बनाने जैसी सोच से ज्यादा कुछ नहीं था।

टेस्ला कंपनी ने नई लिथियम-आयन बैटरियों का लाभ उठाने की योजना बनाई, जो प्रकाश और ऊर्जा दोनों में काफी किफायती थीं, और जो उस समय इलेक्ट्रिक कार के शुरूआती संघर्ष वाले दौर में क्रांति ला सकती थी । उस समय, लिथियम-आयन कोशिकाओं का उपयोग केवल छोटे इलेक्ट्रॉनिक उपकरणों में किया जा रहा था। टेस्ला के सेंट्रल रिसर्च टीम उन बैटरियों की क्षमता बढ़ा रहा था, जिससे इसे पिछली इलेक्ट्रिक कारों की तुलना में कहीं अधिक रेंज वाला इलेक्ट्रिक वाहन बनाने में सक्षम बनाया जा सके।

पहले कुछ वर्षों में दोनों कंपनियों की कठिन शुरुआत हुई- मस्क का कहना है कि उन्होंने अनिवार्य रूप से पेपाल की बिक्री से अपनी सभी आय को अपने नए व्यवसाय यानि बिज़नेस में इन्वेस्ट कर दिया। स्पेसएक्स ने कई असफल प्रक्षेपणों को सहन किया, जिसने इसे लगभग व्यवसाय से बाहर कर दिया, जबकि टेस्ला मुश्किल में पड़ गया क्योंकि इसके इंजीनियरों को एहसास हुआ कि इसके प्रोटोटाइप बैटरी पैक में आग लगने की संभावना है। टेस्ला के पूर्व मुख्य तकनीकी अधिकारी जे.बी. स्ट्राबेल कहते हैं, “अगर हम इसे ठीक नहीं कर पाते हैं तो यह संभावित रूप से कंपनी-समाप्त होने वाली खोज थी।” बाद में, 2008 में महान मंदी के दौरान टेस्ला लगभग दिवालिया हो गई।

आखिरकार, मस्क के निवेश ने प्रॉफिट करना शुरू कर दिया। 2008 में, स्पेसएक्स ने नासा के साथ 1.6 बिलियन डॉलर का सौदा हासिल किया, जबकि टेस्ला ने 2012 में अपनी पहली मास-मार्केट कार, मॉडल एस टुडे को क्रैंक करना शुरू किया, टेस्ला एक ऐसी कंपनी है, जो अमेरिकी इलेक्ट्रिक वाहन बाजार के लगभग दो-तिहाई हिस्से को नियंत्रित करती है। स्पेसएक्स निजी अंतरिक्ष एजेंसी के रूप में निर्विवाद रूप से अग्रणी है।

हालांकि टेस्ला, फोर्ड और जीएम जैसे पुराने कार निर्माताओं की तुलना में कम वाहनों का उत्पादन करती है, लेकिन इसका मूल्यांकन उनकी तुलना में कई गुना अधिक बढ़ गया है। पिछले 18 महीनों में, टेस्ला के शेयर की कीमत तीन गुना से अधिक हो गई है, जिससे इसकी मार्केट कैप $ 1 ट्रिलियन से अधिक हो गई है। मस्क उस स्टॉक के एक बड़े हिस्से को नियंत्रित करते है।

उन्होंने अपना पैसा नई कंपनियों में भी लगाया है। 2016 में, मस्क ने द बोरिंग कंपनी शुरू की, जो सुरंगों को खोदती है, और न्यूरोटेक्नोलॉजी स्टार्टअप न्यूरालिंक। दोनों की कीमत अब सैकड़ों मिलियन डॉलर है। वे दो सबसे हालिया उद्यम उस मानसिकता के उदाहरण हैं जिसने मस्क के भाग्य का निर्माण किया। वे दोनों अत्यधिक ऐसे रिस्की प्रयास हैं जिसने काफी प्रॉफिट दिआ । जहाँ न्यूरालिंक मशीनों के साथ टेलीपैथिक इंटरफेस विकसित करने की कोशिश कर रहा है, तो बोरिंग कंपनी का उद्देश्य बुनियादी ढांचे में क्रांति लाना है। विशेषज्ञों का कहना है कि लंबे समय में इनमे भुगतान करने की ज्यादा संभावना नहीं है, लेकिन बड़ी रकम वाले जोखिम उठाना मस्क की आदत है ।

ये वही दृष्टिकोण है जिसने असंभव रूप से कठिन परियोजनाओं पर लाखों डॉलर फेंका, और जिसने मस्क को एक भाग्यशाली बच्चे से dot.com भाग्य के साथ ग्रह पर सबसे धनी व्यक्ति में बदल दिया। या कम से कम सबसे धनी निजी नागरिक।  एलोन मस्क ने एक बार टाइम मैगज़ीन को दिए इंटरव्यू में कहा था की, “मुझे लगता है कि [रूस के] राष्ट्रपति पुतिन मुझसे काफी अमीर हैं। पर मैं देशों और सामानों पर आक्रमण नहीं कर सकता।”

एलोन मस्क एक क्रन्तिकारी व्यक्तित्व वाले आदमी है जिन्होने अपनी क्रन्तिकारी सोच के कारण सारी विषमताओं के होते हुए एक इतिहास रच दिआ और वो अभी भी रुके नहीं है ।

Leave a Comment

Your email address will not be published.